Chinese Union Version (Simplified)

約 翰 一 書 1

1论 到 从 起 初 原 有 的 生 命 之 道 , 就 是 我 们 所 听 见 、 所 看 见 、 亲 眼 看 过 、 亲 手 摸 过 的 。

这 生 命 已 经 显 现 出 来 , 我 们 也 看 见 过 , 现 在 又 作 见 证 , 将 原 与 父 同 在 、 且 显 现 与 我 们 那 永 远 的 生 命 、 传 给 你 们 。

我 们 将 所 看 见 、 所 听 见 的 传 给 你 们 , 使 你 们 与 我 们 相 交 。 我 们 乃 是 与 父 并 他 儿 子 耶 稣 基 督 相 交 的 。

我 们 将 这 些 话 写 给 你 们 , 使 你 们 ( 有 古 卷 作 : 我 们 ) 的 喜 乐 充 足 。

神 就 是 光 , 在 他 毫 无 黑 暗 。 这 是 我 们 从 主 所 听 见 、 又 报 给 你 们 的 信 息 。

我 们 若 说 是 与 神 相 交 , 却 仍 在 黑 暗 里 行 , 就 是 说 谎 话 , 不 行 真 理 了 。

我 们 若 在 光 明 中 行 , 如 同 神 在 光 明 中 , 就 彼 此 相 交 , 他 儿 子 耶 稣 的 血 也 洗 净 我 们 一 切 的 罪 。

我 们 若 说 自 己 无 罪 , 便 是 自 欺 , 真 理 不 在 我 们 心 里 了 。

我 们 若 认 自 己 的 罪 , 神 是 信 实 的 , 是 公 义 的 , 必 要 赦 免 我 们 的 罪 , 洗 净 我 们 一 切 的 不 义 。

10 我 们 若 说 自 己 没 有 犯 过 罪 , 便 是 以 神 为 说 谎 的 , 他 的 道 也 不 在 我 们 心 里 了 。

Saral Hindi Bible

1 योहन 1

जीवनदायी शब्द

1जीवन देने वाले उस वचन के विषय में, जो आदि से था, जिसे हमने सुना, जिसे हमने अपनी आँखों से देखा, ध्यान से देखा और जिसको हमने छुआ. जब यह जीवन प्रकट हुआ, तब हमने उसे देखा और अब हम उसके गवाह हैं. हम तुम्हें उसी अनन्त जीवन का सन्देश सुना रहे हैं, जो पिता के साथ था और जो हम पर प्रकट किया गया. हमारे समाचार का विषय वही है, जिसे हमने देखा और सुना है. यह हम तुम्हें भी सुना रहे हैं कि हमारे साथ तुम्हारी भी संगति हो. वास्तव में हमारी यह संगति पिता और उनके पुत्र मसीह येशु के साथ है. यह सब हमने इसलिए लिखा है कि हमारा आनन्द पूरा हो जाए.

ज्योति में स्वभाव

यही है वह समाचार, जो हमने उनसे सुना और अब हम तुम्हें सुनाते हैं: परमेश्वर ज्योति हैं. अन्धकार उनमें ज़रा सा भी नहीं. यदि हम यह दावा करते हैं कि हमारी उनके साथ संगति है और फिर भी हम अन्धकार में चलते हैं तो हम झूठे हैं और सच पर नहीं चलते. किन्तु यदि हम ज्योति में चलते हैं, जैसे वह स्वयं ज्योति में हैं, तो हमारी संगति आपसी है और उनके पुत्र मसीह येशु का लहू हमें सभी पापों से शुद्ध कर देता है.

यदि हम पापहीन होने का दावा करते हैं, तो हमने स्वयं को धोखे में रखा है और सच हममें है ही नहीं. यदि हम अपने पापों को स्वीकार करें तो वह हमारे पापों को क्षमा करने तथा हमें सभी अधर्मों से शुद्ध करने में विश्वासयोग्य और धर्मी हैं. 10 यदि हम यह दावा करते हैं कि हमने पाप किया ही नहीं तो हम परमेश्वर को झूठा ठहराते हैं तथा उनके वचन का हमारे अन्दर वास है ही नहीं.